उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर जिला में स्थित नोएडा के सेक्टर 5 के हरौला इलाके में उन लोगों को क्वारंटीन किया गया जो कोरोनावायरस संदिग्ध के संपर्क में आए थे. इस बात की खबर न्यूज़ एजेंसी ANI ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए दी लेकिन उसमें तबलीगी जमात का भी जिक्र किया गया. क्या है पूरी घटना आइए समझते हैं.

आखिर मामला क्या है?

दरअसल मामला 8 अप्रैल की सुबह से शुरू होता है ANI UP ने 8 अप्रैल की सुबह करीबन 5:30 बजे अपने ट्विटर हैंडल के जरिए एक ट्वीट किया गया था ट्वीट में यह लिखा रहता है की नोएडा में उन लोगों को क्वारंटीन किया गया जो तबलीगी जमात के संपर्क में आए थे.

फिर क्या था नोएडा के DCP को इसकी जानकारी मिली. जानकारी मिली तो नोएडा के डीसीपी ने अपने टि्वटर हैंडल के जरिए ANI को लिखा-

इसे भी पढ़ें:- देश में लगा है लाॅकडाउन, सिगरेट खरीदने के लिए फ्रांस से स्पेन पैदल निकल पड़ा एक शख्स

‘प्रक्रिया के मुताबिक, उन लोगों को क्वारंटीन किया गया है, जो कोरोना पॉजिटिव मामलों के संपर्क में आए हैं. तबलीगी जमात का कोई मेंशन नहीं था. आप मिसकोट कर रहे हैं और फेक न्यूज़ फैला रहे हैं.’

ANI
ANI द्वारा किया गया ट्वीट

खैर फिलहाल ANI अपने उस ट्वीट को डिलीट कर दिया. बता दें कि ऐसा ही एक मामला जी न्यूज़ की तरफ से भी एक-दो दिन पहले आया था तो जी न्यूज़ को यूपी पुलिस की तरफ से फटकार पड़ी थी.

फिलहाल देश में कोरोनावायरस की स्थिति दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और तबलीगी जमातइयों के आने के बाद देश में हिंदू और मुस्लिम को लेकर भी काफी चर्चाएं की जा रही है ऐसी स्थिति में कुछ बड़ी न्यूज़ एजेंसी अगर गलत न्यूज़ फैलाएगी तो स्थिति सुधरने के बजाय और बिगड़ सकती है.


वीडियो देखें: क्या 15 अप्रैल से देश में ट्रेन चलेगी या नहीं? पूरी A to Z जानकारी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here