A man died after 200 km walk through foot

भारत में फैली Coronavirus (कोरोनावायरस) के दहशत के कारण भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एकाएक Lockdown का ऐलान कर दिया. यह सोच कर कि कोरोना को भारत पर असर नहीं करने देंगे. इस Lockdown के चलते एक शख्स, जो गांव की ओर पलायन कर रहा था. परंतु 200 किलोमीटर चलने के बाद इस शख्स की मौत हो गई. पुलिस की जानकारी के मुताबिक इनका नाम रणवीर सिंह था.

आप रणवीर सिंह नाम को लेकर बॉलीवुड के कलाकार रणवीर सिंह पर ना चले जाएं. उनका इस घटना से कोई संबंध नहीं है. अभी हाल ही के कुछ दिनों की बात करें तो कोरोनावायरस ने जितने इंसान को चपेट में नहीं लिया है उससे कहीं ज्यादा मौतें भूखमरी एवं लोगों के हाईवे की चपेट में आने से हुई है.

अपने गांव के लिए निकला था यह शख्स


The man was delivery boyTOI के मुताबिक, 39 वर्षीय Ranveer Singh (रणवीर सिंह) नामक शख्स मध्य प्रदेश के मुरैना जिला का रहने वाला था. रणवीर दिल्ली से चलना प्रारंभ किया. रास्ते में हुआ 200 किलोमीटर पैदल चला. फिर आगरा के रास्ते पर ही उसकी मौत हो गई. जानकारी के मुताबिक, वह मुरैना जिला के अंबा गांव का निवासी था और अपने गांव के लिए निकला था. दिल्ली में वह एक रेस्टोरेंट में ‘delivery boy’ का काम कर रहा था. Lockdown होने पर दुकानें बंद हो गई थी. उसके बाद कुछ दिन दिल्ली में बिताने के बाद स्थिति बिगड़ने पर वो गांव की ओर चला था.

क्या हुआ था, कैसे हो गई मौत?

सिकंदराबाद के स्थानीय थानाअध्यक्ष अरविंद कुमार के मुताबिक, नेशनल हाईवे 2 पर कैलाश मोड़ के पास वह अचानक गिर गया था. वहीं सामने स्थित एक हार्डकान के मालिक संजय गुप्ता उसकी तरफ तुरंत दौड़कर गए. दुकानदार ने उन्हें चाय-बिस्किट दिए. फिर रणवीर ने अपने साले अरविंद सिंह को अपने सीने में दर्द होने की बात कही. इसके बाद शाम 6:30 बजे Ranveer Singh की मौत हो गई.

यह भी पढ़ें:- Delhi Crowd पर अरविंद केजरीवाल के विरुद्ध गौतम गंभीर को बोलना पड़ा भारी, लोगों ने ऐसे मारे ताने

मोदी कर रहे देशवासियों के साथ अन्याय

सोशल मीडिया पर एक वीडियो बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक शख्स गाड़ी पर बैठा है और वह कैमरे के सामने बता रहा है कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने Lockdown किया अच्छी बात है. परंतु इस स्थिति के कारण बहुत सारे मजदूर देश के विभिन्न राज्यों में फंसे हुए हैं. उनके पैसे समाप्त हो गए हैं. उन्हें खाना नहीं मिल पा रही है और उन्हें अपने गांव आने के लिए सुविधाएं भी नहीं मिल रही. आखिर वह करें तो करें क्या?

वीडियो बना रहे इस शख्स ने यह भी कहा, “प्रधानमंत्री ने विदेशों में कार्य कर रहे लोगों को बेहतरीन सुविधा के साथ हवाई जहाज के जरिए उन्हें भारत लाया. करोड़ों रुपए खर्च किए परंतु भारतीय मजदूरों को बचाने की उनकी जिम्मेदारी नहीं है. उनके लिए कुछ भी सेवा उपलब्ध नहीं. मोदी जी देश की जनता के साथ अन्याय कर रहे हैं.

यह वीडियो सोशल साइट पर खोजने पर प्राप्त नहीं हुई. अगर आप यह वीडियो देखना चाहते हैं तो कमेंट करें. मेरे मोबाइल के स्टोरेज में सेव है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here