Gambhir raised questions on Kejriwal on Delhi Crowd

Delhi Crowd: पूरे भारत में Lockdown लगने के बावजूद अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में बस सेवाएं चालू कर दी हैं. लोगों को जैसे ही यह पता चला कि बस सेवाएं प्रारंभ हो गई है. Anand Vihar bus stand (आनंद विहार बस स्टैंड) एवं kaushambi bus stand (कौशांबी बस स्टैंड) पर भीड़ का सैलाब आ गया. Lockdown के उल्लंघन पर भड़के गौतम गंभीर. अरविंद केजरीवाल से मांगी इस पर जवाब. फिर क्या था. गौतम गंभीर द्वारा ट्विटर पर मांगे जवाब पर दिल्ली की जनता ने लिया उन्हें आड़े हाथ.

क्यों लगा आनंद विहार बस स्टैंड एवं कौशांबी बस स्टैंड पर भीड़?

Delhi Anand Vihar bus stand crowdआज भारत में Lockdown लगाए हुए 5 दिन हो चुके हैं. नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को इसकी घोषणा की थी. भारत में लागू इस नियम के मुताबिक कोई भी अपने घरों से बाहर नहीं निकलेगा और प्रत्येक व्यक्तियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहनी चाहिए. परंतु अरविंद केजरीवाल ने Lock के नियम का उल्लंघन करते हुए दिल्ली में 2 दिन पहले बस सेवाएं प्रारंभ कर दी. Anand Vihar bus stand एवं kaushambi bus stand पर शनिवार को भीड़ का सैलाब देखने को मिला.

Delhi Crowd या फिर दिल्ली में उमड़े यात्रियों के सैलाब का कारण Lockdown है. लाखों की संख्या में विभिन्न राज्यों से मजदूर दिल्ली कार्य करने हेतु गए थे. परंतु उनकी हालत इतनी गंभीर हो चुकी थी कि उन्हें दिल्ली से गांव पहुंचने में ही भलाई नजर आ रही थी. उनके पास पैसे खत्म हो चुके थे. खाने को अन्न नहीं था. दिल्ली में रहकर भी वह क्या करते. बाहर जाकर तो कार्य नहीं कर सकते और ना ही पैसे कमा सकते थे. ऐसी स्थिति में उनके पास एक ही विकल्प था, वह था गांव की ओर पलायन करना.

गौतम गंभीर ने Delhi Crowd को लेकर केजरीवाल को क्या कहा?

Gautam gambhir asked from kejriwal on Delhi bus stand crowdलगभग 200 देशों को निशाना बना चुके Coronavirus ने लगभग 32000 लोगों को मौत के घाट उतार चुकी है. वास्तव में यह कोरोनावायरस इतनी भयावह है कि मरने वक्त भी आपको कोई देखने या छूने नहीं आएगा. दिल्ली के बस स्टैंडों पर लाखों लाख की संख्या में लगी भीड़ Coronavirus (कोरोनावायरस) को आमंत्रित करने जैसी थी. इसका कारण गंभीर ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर थोपा है. गौतम गंभीर भीड़ की तस्वीर ट्विटर पर शेयर करते हुए कहा, “दिल्ली की जनता ने @ArvindKejriwal को औरों पे आरोप लगाने के लिए चुना है क्या ?
इस स्थिति में भी सारी जवाबदेही PM और बाकी राज्यों के CM पे डाल दी !
500 करोड़ के advertisement budget में 2 लाख लोगों का खाना आ जायेगा
अगर दिल्ली ही नहीं रहेगी तो कहाँ बेचोगे अपने झूठ को?

शर्मनाक!”

यह भी पढ़ें:- Strange event: सुपरमार्केट में एक महिला के मजाक में दिया खांस तो मालिक ने 26 लाख के सामान दिए बाहर फेंक

गौतम गंभीर द्वारा कथित कथन सत्य है क्योंकि ऐसी भीड़ Coronavirus को खुले आमंत्रण देने जैसी है. परंतु केजरीवाल के चाहने वाले उनकी जनता का आक्रोश उन पर फूटा, लिखें ऐसे-ऐसे कमेंट.

“भाई तू जलेबी खा और पार्टी लाइन के हिसाब से ट्वीट कर”. “तुमसे बड़ा निकम्मा देश में कौन है.”एक ने लिखा, “तुम सीएम नहीं बने इसका दर्द मैं समझ सकता हूं”. लोग तो अश्लील शब्दों पर उतर आए. कहा, “अबे ढक्कन तेरे को ब्लू टिक कौन दिया बे.”

वहीं एक ट्विटर यूजर ऋषि तिवारी ने पर प्रकाश डालते हुए अरविंद केजरीवाल के एक पोस्ट को शेयर किया है. इसमें केजरीवाल में लिखा था, “यूपी और दिल्ली दोनों सरकारों ने तो बसों का इंतजाम कर दिया है. पर मेरी जनता से यही अपील है कि वह जहां है वही रहे. हमने दिल्ली में रहने, खाने-पीने सब का इंतजाम किया है. कृपया अपने घरों में रहे, गांव ना जाए. नहीं तो Lockdown (लॉकडाउन) का मकसद खत्म हो जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here